Wednesday, September 14, 2011

‎'कृपालु' के साथ दो चाल नहीं चलेंगी, कि मुझको भी हृदय में रखों और गलतियाँ(नामापराध) भी करते जाओ। मुझे अपने हृदय से निकाल दो तब गलतियाँ करो।