Friday, February 15, 2013

हरि गुरु एक ही हैं गोविंद राधे |
दोनों को प्रणाम एक साथ बता दे ||

हरि के अधीन गुरु गोविंद राधे |
गुरु के अधीन हरि भेद ना बता दे ||
...
स्वार्थ की दृष्टि ते गोविंद राधे |
गुरु को बड़ा ही कह रसिक बता दे ||

गुरु प्रेमदान करे गोविंद राधे |
हरि प्रेम ना दे यह भेद बता दे ||

राधा गोविन्द गीत
जगद्गुरु श्री कृपालु जी महाराज.
हरि गुरु एक ही हैं गोविंद राधे |
दोनों को प्रणाम एक साथ बता दे ||

हरि के अधीन गुरु गोविंद राधे |
गुरु के अधीन हरि भेद ना बता दे ||

स्वार्थ की दृष्टि ते गोविंद राधे |
गुरु को बड़ा ही कह रसिक बता दे ||

गुरु प्रेमदान करे गोविंद राधे |
हरि प्रेम ना दे यह भेद बता दे ||

    राधा गोविन्द गीत
जगद्गुरु श्री कृपालु जी महाराज