Friday, February 15, 2013

 
एक क़ानून है भगवान का कि भगवान डाइरैक्ट(direct) जीव को कुछ नहीं देते ,गुरु के द्वारा ही दिलवाते हैं। वे कहते हैं में डाइरैक्ट(direct) कुछ नहीं दूंगा, केयरऑफ(care of) महापुरुष तुमको सब कुछ मिलेगा 'तत्वज्ञान से लेकर भगवतप्राप्ति तक'।
एक क़ानून है भगवान का कि भगवान डाइरैक्ट(direct) जीव को कुछ नहीं देते ,गुरु के द्वारा ही दिलवाते हैं। वे कहते हैं में डाइरैक्ट(direct) कुछ नहीं दूंगा, केयरऑफ(care of) महापुरुष तुमको सब कुछ मिलेगा 'तत्वज्ञान से लेकर भगवतप्राप्ति तक'।