Monday, February 11, 2013

समय का सदा सदुपयोग करना मनुष्य का सर्वोत्तम सिद्धान्त है ! सदुपयोग सत पदार्थों के चिन्तन से ही सम्भव है ! सत्य पदार्थ केवल श्यामा श्याम का नाम , रूप,लीला , गुण, धाम एवं जन ही हैं !
-------जगद्गुरु श्री कृपालु जी महाराज.
समय का सदा सदुपयोग करना मनुष्य का सर्वोत्तम सिद्धान्त है ! सदुपयोग सत पदार्थों के चिन्तन से ही सम्भव है ! सत्य पदार्थ केवल श्यामा श्याम का नाम , रूप,लीला , गुण, धाम एवं जन ही हैं !
-------जगद्गुरु श्री कृपालु जी महाराज.