Friday, July 4, 2014

' गुरु ' शब्द की व्याख्या करते हुए बताया गया है कि जो शिष्य के हृदय में अज्ञान को दूर कर श्यामा - श्याम का ज्ञान प्रदान करे वही गुरु है।
------श्री कृपालु जी महाराज।