Tuesday, July 1, 2014

प्रभु से प्रेम करो, प्रभु से प्रेम करो, और सिर्फ प्रभु से प्रेम करो।
वो जो आपकी आँखों से देख रहा है, वो जो आपकी देह को चला रहा है, वो जो आपके दिल में धड़क रहा है, जब धड़कना बंद कर देगा तो बाकी के सब प्रेम समाप्त हो जायेंगे। आपका घर-परिवार, धन-संपत्ति, यार-दोस्त, सगे-संबंधी यहाँ तक कि यह पृथ्वी भी किसी काम नहीं आएगी। वह कौन है जो जन्म से पूर्व आपके साथ था, और मृत्यु के पश्चात भी साथ रहेगा, जो कभी साथ नहीं छोड़ेगा। उस प्रेमियों के प्रेमी से परिचय, मित्रता और प्रेम करना ही सार्थक है।