Wednesday, July 23, 2014

तुमने समझा ही नहीं और ना ही समझना चाहा.....!
कि हमने चाहा ही क्या तुम्हारे सिवा......!!
राधे-राधे।