Wednesday, September 11, 2013

भक्तिमार्गावलंबी को सर्वप्रथम उपर्युक्त 3 शर्तों को पूरा करना होगा ------
1 . त्रण से बढ़कर दीन भाव रहे।
2 . वृक्ष से बढ़कर सहिष्णु भाव रहे।
3 . सबको सम्मान दे , स्वयं सम्मान न चाहे।

.........जगद्गुरु श्री कृपालु जी महाप्रभु.