Wednesday, March 27, 2013

It is your mind alone Which your greatest enemy.
मन ही मनुष्य का सबसे बड़ा शत्रु है !
---Shri maharaj Ji.
It is your mind alone Which your greatest enemy. 
मन ही मनुष्य का सबसे बड़ा शत्रु है !
---Shri maharaj Ji.