Sunday, April 20, 2014

भक्त उसे कहते हैं जो हर पल हरि-गुरु को याद करता है, और हरि-गुरु भी हर पल उसे याद करते हैं।
-----श्री महाराज जी।