Thursday, April 17, 2014

जितना-जितना संसार को अपना समझते रहोगे,उतना-उतना भगवान पराया बनता जायेगा।
-------श्री महाराजजी।