Wednesday, June 12, 2013

विपरीत वातावरण मिलने पर भी अंत:करण विपरीत वातावरण से प्रभावित न हो, वो साधक है।
-----श्री महाराजजी।