Friday, March 13, 2015

यदि तन , मन , धन हरि गुरु को समर्पित नहीं किया गया तो संसार अवश्य ही इन्हें लूट लेगा ।
----श्री महाराज जी।