Wednesday, April 27, 2016

गुरु के आदेशों को (तत्वज्ञान) सदा साथ रखो, तभी सच्चे साधक कहलाओगे!!!

........श्री महाराजजी।