Monday, July 8, 2013

कहीं भी गलत अटैचमेंट हुआ कि शरणागति समाप्त हुई, अतः गुरु रूपी भगवान् को ही सब कुछ मानो।
......श्री कृपालु महाप्रभु।