Thursday, April 18, 2013

गलती प्रत्येक व्यक्ति करता है , अतः सबसे नम्रता एवं दीनता का व्यवहार करो, सबको अपने से बड़ा मानो।
-----श्री महाराज जी।
गलती प्रत्येक व्यक्ति करता है , अतः सबसे नम्रता एवं दीनता का व्यवहार करो, सबको अपने से बड़ा मानो।
-----श्री महाराज जी।