Sunday, December 13, 2015

जिन्होंने श्री श्यामा - श्याम एवं श्री सीता - राम में अभेद बताया है , इस सिद्धांत को परिपक्व करने के लिए अपने जन्म स्थान स्थित ' भक्ति मंदिर ' एवं श्री धाम वृन्दावन स्थित ' प्रेम मंदिर ' में श्री यादवेन्द्र सरकार और श्री राघवेन्द्र सरकार दोनों के ही श्री विग्रह स्थापित किये हैं ,
ऐसे अनुपम प्रेम के सिद्धान्त को प्रकट करने वाले श्री प्रिया प्रियतम के प्रेम रस रसिक गुरुवर को कोटि कोटि प्रणाम !