Saturday, May 6, 2017

आपकी जितनी आयु शेष है, यदि उसका एक-एक श्वास आपने भगवान् काे साैंप दिया ताे सारे पाप-तापों से मुक्त हाेकर आप इसी जन्म में भगवान काे पाकर अनन्त जीवन की साध पूरी कर सकते हैं। आशा है,आप मेरी प्रार्थना पर ध्यान देंगे।
------जगद्गुरु श्री कृपालुजी महाराज।