Thursday, July 2, 2015

साधक के लिये अनिवार्य है कि वह अपना मन हरि गुरु में ही सदा लगाये रखे।
.........श्री महाराजजी।