Wednesday, April 9, 2014

भगवान् के प्रति जो हमारा नित्य सम्बन्ध है, उसको हमें जानना है और सदा मानना है।
-----श्री महाराज जी।